SKPEDIA SHORT WIKIPEDIA

What is Single Use Plastic 

Why This Gandhi Jayanti 2019 Is Special


महात्‍मा गांधी जयंती 2 अक्‍टूबर 2019इस बार क्‍यो है महत्‍वपूर्ण ?


What is Single Use Plastic  :: नमस्कार  दोस्‍तो मैं  सुनील पाली आपका स्‍वागत करता हॅू www.suneelkewat.com पर आज हम इस पोस्‍ट पर बात करने वाले है सिंगल यूज प्‍लास्टिक पर जिसे एक बार उपयोग कर फेंक दिया जाता है प्‍लास्टिक पर्यावरण को गंभीर नुकसान पहुचा रहा है ।

मैं अपने सभी दोस्‍तो से विनम्र आग्रह करता हॅू कि पर्यावरण को सुरक्षित रखने की दशा में आप अपना सहयोग करे आप भी अपने रोजाना के कामो मे सिंगल यूज प्‍लास्टिक का उपयोग न करे और न ही अपने घर वालो को करने दे

आपकी यह पहल पर्यावरण को बचाने की दिशा में महत्‍वपूर्ण साबित होगी । इससे हम आने वाली पीढ़ी को एक स्‍वच्‍छ , स्‍वस्‍थ पर्यावरण सौंप सकेगे ।

भारत के विकास से अपना नाता जोड़ो । पॉलिथीन के प्रयोग को अब छोड़ो ।।


“बापू जी के चश्‍मे में पहले ही नजर आ चुका था सिंगल यूज प्‍लस्टिक का खतरा ।”


राष्‍ट्रपिता महात्‍मा गांधी की 150 वीं जयंती पर मोदी सरकार एक ही बार इस्‍तेमाल होने वाली प्‍लास्टिक की छुट्टी करने जा रही है । दरअसल इस तरह की प्‍लास्टिक का इस्‍तेमाल भले ही सहज हो लेकिन इसका पर्यावरण और इंसान पर पड़ने वाला नुकसान बहुत ज्‍यादा है ।


चलिए जानते है  इसके बारे में 

  1. क्‍या है सिंगल यूज प्‍लास्टिक ? 
  2. प्लास्टिक कैसे पहुचाती है पर्यावरण को  नुकसान ?

 

  1. क्‍या है सिंगल यूज प्‍लास्टिक  – सिंगल यूज प्‍लास्टिक यानी एक ही बार इस्‍तेमाल के लायक प्‍लास्टिक ।प्‍लास्टिक की थैलिया , प्‍याले , प्‍लेट , छोटी बोतले , स्‍ट्रा और कुछ पाउच सिंगल यूज प्‍लास्टिक है ये दोबारा उपयोग के लायक नही होती है इसलिये एक बार के उपयोग के बाद फेंक दिया जाता है । दरअसल आधी से ज्‍यादा इस तरह की प्‍लास्टिक पेट्रोलियम आधारित उत्‍पाद होते है । इनक उत्‍पादन पर खर्च बहुत कम आता है । यही वजह है कि रोजाना के बिजनस और कारोबारी इकाइयो मे इसका खूब इस्‍तेमाल होता है ।
  2. सिंगल यूज प्‍लास्टिक कैसे बनती है – सामान्यतः  प्लास्टिक, शंश्लेषित अथवा अर्धशंश्लेषित कार्बनिक ठोस पदार्थों के एक बड़े समूह का सामान्य नाम है।
  3. प्लास्टिक कैसे पहुचाती है पर्यावरण को  नुकसान –  अगर हम अपनी दिनचर्या  दें तो  पाएंगे की सुबह  से लेकर हमारे सोने तक ,हम हर तरफ स्वयं को प्लास्टिक से घिरा हुआ पाएंगे ,प्लास्टिक पृथ्वी पर इतनी ज्यादा फ़ैल चुकी है अगर इसे पृथ्वी पर फैला दें तो लगभग 4 घेरे बन जायेंगे चूँकि प्लास्टिक भी कई प्रकार की होती है ,कुछ कठोर और कुछ मुलायम ,प्लास्टिक का कचरा पानी के स्त्रोतों को प्रदूषित कर रहा है ,और बाकी का ज़मीन में दबा हुआ प्रदूषित कर रहा है | 

‘प्रदूषण से लड़ने का अब सब मिलकर लाे संकल्‍प ,

क्‍योंकि पर्यावरण को बचाने का

सिर्फ यही है एकमात्र विकल्‍प ।


रोकथाम हेतु  समिति‍ का गठन


रामविलास पासवान ने 09 सितम्‍बर 2019 को बताया कि मंत्रिमंडल सचिव की अध्‍यक्षा में एक अंतर-मंत्रालयी समिति‍ का गठन किया गया . इस समिति को एक बार में या चरणबद्ध तरीके से सिंगल यूज प्‍लास्टिक पर प्रतिबंध  लगाने के मुद्दे पर गौर करने का आदेश दिया गया है ।


प्‍लास्टिक से जुड़े वो सवाल जिनके जवाब जानना जरूरी है !


1.भारत देश में अभी कितना प्‍लास्टिक कचरा निकलता होगा ? 

– भारत में प्रतिदिन 25 हजार मीट्रिक टन प्‍लास्टिक कचरा निकल रहा है ।

2.अब सवाल आाता है इससे परेशानी क्‍या है ?

– फिक्‍की के अनुसार वर्ष 2021 तक प्रति वर्ष 110 मिलियन टन और 2041 तक 200 मिलियन टन कचरा निकलने का अनुमान है । देश की हर गाय के पेट में लगभग 30 किलो प्‍लास्टिक है । कछुए व मछलिया भी परेशान है

  1. अब सवाल आाता है क्‍या सिर्फ इससे जानवर परेशान है ?

– नहीं इंसान खुद भी इस खतरे से बच नही पाया है । जर्नल इन्‍वॉयरमेंट सांइस एंड टेक्‍नोलॉजी ने 26 अध्‍ययन के डेटा के आधार पर बताया है कि इंसान हर साल प्‍लास्टिक के करीब 50 हजार पार्टिकल खा जाता है ।

  1. अब सवाल आाता है कि क्‍या हम प्‍लास्टिक का इस्‍तेमाल बहुत ज्‍यादा कर रहे है ?

– हां, बिल्‍कुल । यूरोमॉनिटर इंटरनेशनल कंटेनर रिसायक्लिंग इंस्टिटयूट के अनुसार दुनियाभर में हर मिनिट में 10 लाख प्‍लास्टिक बॉटल बिकती है ।


जन जागरूकता से ही यह संभव है 

2  अक्‍टूबर 2019 से सभी भारतीय जब भी बाजार जाय तो एक कपड़े का थैला साथ जरूर ले जाये ।

प्लास्टिक मुक्‍त भारत, महाअभियान 

 

इस पोस्ट को लिखने का तात्पर्य लोगों को भविष्य के लिए आगाह करना है ,और आने वाली पीढ़ियों के लिए स्वच्छ और स्वस्थ वातावरण प्रदान करना है ,आशा करता हूँ ,थोड़ा बहुत आपको समझाने में सफल रहा हूँ ,कृपया इसे शेयर कीजिये और अन्य लोगों को अवगत कराइये |


Join Our Telegram Channel Top Updates ⇓ 

Click Here To Join Channel 1:)

Click Here To Join Channel 2:)


Read Other Posts :: –

  1. December Month Important Days In Hindi | National And International Days
  2. November Month Important Days In Hindi | National And International Days
  3. October Month Important Days In Hindi | National And International Days
  4. Important Days In September National And International In Hindi | सितम्बर के महत्वपूर्ण दिवस
  5. Hindi Diwas 2019 14 September Hindi Diwas Important Fact In Hindi
  6. Top 9 Life Changing Inspirational Thoughts in Hindi For Students

You Can Comment Your Request/ Suggestions ::

⇓⇓⇓


Any Query/Request/Suggestion Visit :: Disclaimer

Facebook Comments

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here